यास तूफान का असर: 36 घंटे की बारिश ने उभार दिया शहर का पुराना मर्ज, पानी डूबी एक लाख की आबादी, बिजली व्यवस्था के दावों की भी निकली हवा

गोरखपुर: ताउते के बाद अब यास तूफान का असर गोरखपुर के शहरी इलाकों में साफ दिख रहा है। 36 घंटे की बारिश ने सीएम सिटी का पुराना मर्ज एक बार फिर उभार दिया। नगर निगम के दावों के उलट शहर की एक लाख से अधिक आबादी पानी में घिरी हुई है। असुरन-मेडिकल रोड के दोनों तरफ की दर्जन भर से अधिक मोहल्लों में पानी लग गया है। स्थानीय पार्षद आलोक सिंह विशेन ने एचएन सिंह चौराहा के पास पीडब्ल्यूडी द्वारा बनवाए गए नाले को तोड़वा दिया। जिससे पानी की निकासी हुई। वहीं कूड़ाघाट क्षेत्र की कालोनियां जलनिगम द्वारा सीवर लाइन के लिए सड़क उखाड़े जाने के चलते बेहाल हैं। कीचड़ से गाड़ियां फंस जा रही हैं।

80 पंपिंग सेट लगा निकाला जा रहा पानी

36 घंटे की बारिश में शहर की हालत यह हो गई कि महापौर सीताराम जायसवाल और नगर आयुक्त अविनाश सिंह को भी शुक्रवार को सड़कों पर उतरना पड़ गया। दोनों लोग सुबह से ही शहर में प्रभावित इलाकों का दौरा कर रहे हैं। महापौर और नगर आयुक्त का दावा है कि शहर में कहीं भी जलभराव की स्थिति नहीं है। वहीं, शहर के तारामंडल रोड बुध विहार, पैडलेगंज, दाउदपुर, साहबगंज, लालडिग्गी, रामनगर रोड, बेनीगंज, असुरन रोड का इलाका पानी में डूबा रहा। नगर निगम जलनिकासी के लिए 80 पंपिंग सेट लगा रखा है। इनमें से 27 पंप 25 सैंपवेल पर लगे हुए हैं। नगर आयुक्त अविनाश सिंह ने बताया कि शुक्रवार को मौसम विभाग के मुताबिक 188 मिमी बारिश हुई है। नगर निगम की टीम जलभराव वाले क्षेत्र में लगातार दौरा कर रही है। कहीं भी जलभराव या सफाई संबंधित कोई भी समस्या हो तो पब्लिक अपने इलाके के सुपरवाइजर को तत्काल इसकी सूचना दें। ताकि उसे दुरूस्त कराया जा सके।

बिजली व्यवस्था के दावों की खुली पोल

बारिश शुरू होते ही गुरुवार की रात 10 बजे शहर के ज्यादातर फीडर क्षेत्र में ब्रेकडाउन होने से बिजली गुल हो गई। पूरी रात लोग बिजली आपूर्ति का इंतजार करते रहे। शुक्रवार की सुबह बिजली कर्मचारियों ने झमाझम बारिश के दौरान ही फाल्ट दुरुस्त कर बिजली आपूर्ति बहाल की। सबसे पहले कोविड अस्पताल क्षेत्र में बिजली आपूर्ति शुरु की गई। लगातार बारिश की वजह से दिन में भी कई फीडर क्षेत्रों में जम्पर कटने व फ्यूज उड़न से आपूर्ति प्रभावित रही। इस दौरान लोगों को रोशनी व पानी की दिक्कत झेलनी पड़ी। आनलाइन क्लास व वर्क फ्राम होम करने वाले नौकरी पेशा लोगों को काफी दिक्कत झेलनी पड़ी।

इन इलाकों में गुल रही बिजली

गुरुवार की रात 10 बजे बिछिया, जगरनाथपुर, जटेपुर, नथमपुर, राजेन्द्र नगर मोहद्दीपुर दो, तारामण्डल व रानीबाग, नौसढ़, पुलिस लाइन व ओल्डपावर हाउस फीडर से जुड़े मोहल्लों में फाल्ट से बिजली गुल हो गई। कर्मचारियों ने फाल्ट दुरुस्त कर बिजली आपूर्ति बहाल करने की कोशिश की, लेकिन लगातार बारिश की वजह से उन्हें सफलता नहीं मिल सकी। अभियंताओं के निर्देश पर शुक्रवार की भोर से कर्मचारी पेट्रोलिंग में जुटे। सुबह 10 बजे तक प्रभावित क्षेत्रों में आपूर्ति बहाल किए। दिन में लगातार बारिश के कारण दर्जनभर ट्रांसफार्मरों के फ्यूज उड़ गए। राजेन्द्र नगर क्षेत्र में तार टूट गया। बक्शीपुर व अलीगनगर क्षेत्र में जम्पर कटने से बिजली आपूर्ति प्रभावित हो गई। खोराबार बिजली घर के आवास विकास व दिव्यगनर फीडर क्षेत्र में पूरीरात के साथ ही दिन में भी बिजली प्रभावित रही। लोगों ने फोन करके अभियंताओं से शिकायत दर्ज कराई। उसके बाद आपूर्ति बहाल हुई।

हाईवोल्टेज से कई घरों में फूंक गए इलेक्ट्रिक उपकरण

वहीं, महानगर के शाहपुर बिजली घर से जुड़े क्षेत्रों में हाईवोल्टेज करंट घरों में दौड़ने लगा। जेमिनि अपार्टमेंट के पिछे के मोहल्लें में दर्जनभर घरों के इलेक्ट्रिक उपकरण जल गए। कई घरों में पानी मोटर के साथ ट्यूब लाइट जलने व एलईडी जलने की सूचना है। इसको लेकर लोगों में आक्रोश है। सूचना के बाद मौके पर पहुंचे बिजली कर्मचारियों ने फाल्ट दुरुस्त कर आपूर्ति बहाल की। उपेन्द कुमार ने बताया कि उनके घर पर पानी मोटर व टीवी जल गई। जबकि पड़ोसी के वहां इनवर्टर के साथ ही अन्य उपकरण जल गए है।

खम्भों में करंट उतरा

शहर के विभिन्न क्षेत्रों में बारिश के कारण आधा दर्जन बिजली खम्भों में करंट उतर गया। पुर्दिलपुर मोहल्लें में बिजली खम्भें के करंट की जद में आकर एक गाय की मौत हो गई। आस-पास के लोगों को फोन कर सूचना दी। बिजली कर्मचारियों ने फाल्ट दुरुस्त किया। इसके बाद लोगों को राहत मिली।

यहां पूरी रात गायब रही बिजली

जगरनाथपुर, टाउनहाल, जटाशंकर, राजेन्द्रनगर, नथमलपुर, आवास विकास कालोनी, बिछिया, मोहद्दीपुर दो,विशुनपुरवा, महादेवपुर, दिव्यगनर, सैनिक विहार, दरगहिया, घासी कटरा समेत अन्य मोहल्लों में गुरुवार की रात 10 बजे से शुक्रवार की सुबह 9 बजे तक बिजली आपूर्ति प्रभावित रही।

यहां पूरे दिन गुल रही बिजली

राजेन्द्रनगर , शाहपुर, बशारतपुर, सरस्वतीपुरम, हाईडिल कालोनी, बक्शीपुर, महादेवपुरम, दिव्यगनगर, सिंघड़िया, तारामण्डल, रानीबाग, शक्तिनगर, बेतियाहाता, नार्मल समेत अन्य मोहल्लों में पूरे दिन बिजली गुल रही। कर्मचारियों ने फाल्ट दुरुस्त कर शाम को बिजली आपूर्ति बहाल की। अधीक्षण अभियंता नगरीय ई‘ यूसी वर्मा ने बताया कि लगातार बारिश की वजह से शहर के ज्यादातर क्षेत्रो में बिजली आपूर्ति फाल्ट के कारण प्रभावित रही। कुछ क्षेत्रों में रात में ही बिजली गुल हो गई। कर्मचारियों ने उसे ठीक करने की कोशिश की, लेकिन बारिश के कारण सफलता नहीं मिली।