गोरखपुर पहुंची सामाजिक परिवर्तन रथ यात्रा: शिवपाल सिंह यादव बोले- 2022 में जरूर होगा सत्ता परिवर्तन, बीजेपी को हराने के लिए सपा से करेंगे गठबंधन

गोरखपुर: प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने कहा की अब परिवर्तन होना चाहिए। 2022 में सत्ता का परिवर्तन जरूर होगा। सपा से गठबंधन के सवाल पर उन्होंने कहा हमारा प्रयास यही है कि बहुत जल्द गठबंधन हो। गठबंधन को लेकर शिवपाल ने कहा कि मुझे संकेत अच्छे मिल रहे हैं। भाजपा को हटाने के लिए हम हर हाल में विलय करेंगे। गुरुवार को शिवपाल सिंह यादव की सामाजिक परिवर्तन रथ यात्रा उत्तर प्रदेश के गोरखपुर पहुचीं।

साढ़े चार वर्षों में भी नहीं भरे जा सके सड़कों के गड्ढे
आगमन के स्वागत के लिए प्रसपा किसान सभा के प्रदेश अध्यक्ष एवं बांसगांव के पूर्व चेयरमैन अंशुमान सिंह के नेतृत्व में पैडलेगंज चौराहे पर कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया गया। जिसके बाद शिवपाल की रथयात्रा रामगढ़ताल इलाके के चंपा देवी पार्क पहुचीं। चंपा देवी पार्क में आयोजित जनसभा को शिवपाल ने संबोधित किया। शिवपाल ने मंच से कहा कि बीजेपी ने अच्छे नारे दिए हैं। भगवान राम और मां गंगा की कसम खाई थी, लेकिन साढ़े चार वर्षों में गंगा आज भी गंदी हैं। बीजेपी का पहला नारा था की काला धन हम लाएंगे और प्रत्येक व्यक्ति के खाते में 15 लाख रुपए भेजेंगे। लेकिन किसी के खाते में आज तक एक भी रुपए नहीं गए।

बीजेपी नेताओं की भी बात नहीं सुनते अधिकारी
दूसरा नारा दिया 100 दिन में भ्रष्टाचार खत्म करेंगे। लेकिन आज अधिकारी बीजेपी के विधायक और इनके जिला अध्यक्ष की बात तक नहीं सुनते। कोरोना काल मे सरकार की नीतियों पर उठाया गए सवाल पर शिवपाल ने कहा की गलत नीतियों की वजह से पहली बार 15 करोड़ और दूसरी बार 5 करोड़ लोग बेरोजगार हुए। नोट बंदी, जीएसटी से सिर्फ उद्योगपतियों और बीजेपी के बड़े नेताओं को ही फायदा हुआ। आम गरीब जनता सिर्फ लाइन में धक्के खाई। उन्होंने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि गोरखपुर को छोड़ अन्य जिलों में 7 से 8 घंटे ही बिजली रहती है। साढ़े चार साल में सरकार सड़कों के गड्ढे तक भर नहीं पाई। अब 2 महीने में कहां से भरेंगे?

पूर्व मंत्री के बिगड़े बोल
वहीं, पूर्व मंत्री जय प्रकाश यादव शिपवपाल की जनसभा में मंच को संबोधित कर रहे थे। इस बीच उन्होंने कहा कि आज इस सरकार में गुंडागर्दी हो रही है। जिसका रास्ता हमने ही दिखाया है। पूर्व मंत्री के इस बयान पर सभा में पहले तो खूब ठहाके लगे, लेकिन उनके इस बिगड़े बोल की हर ओर आलोचना भी होनी लगी।

आधे से ज्यादा कुर्सियां रही खाली
चंपा देवी पार्क में प्रसप प्रमुख शिवपाल सिंह यादव विधानसभा चुनाव से पहले ताकत दिखाने पहुंचे, लेकिन पहली ही रैली में सभा स्थल पर आधे से अधिक कुर्सियां खाली ही रह गई। कार्यकर्ताओं की तमाम कोशिशों के बावजूद सभा में अधिक भीड़ नहीं जुट सकी।