गोरखपुर में पासिंग आउट परेड: पुलिस की 87 महिला व पीएसी के 169 आरक्षियों का प्रशिक्षण पूरा, अब लोगों की सुरक्षा इनके हाथ

गोरखपुर: पुलिस लाइन गोरखपुर में शुक्रवार को पासिंग आउट परेड का आय़ोजन किया गया। इस दौरान कोविड निमयों का ध्यान रखते हुए 87 महिला आरक्षियों को ट्यूटी की शपथ दिलाई गई। मुख्य अतिथि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी ने महिला आरक्षीयों को जिलों में ड्यूटी के लिए शपथ दिलाकर ट्रेनिंग के दौरान विशेष योगदान देने वाली महिला आरक्षियों को सम्मानित किया।

नवंबर 2020 में शुरु हुआ था प्रशिक्षण

2021 बैच का पुलिस लाइन गोरखपुर में 87 रिक्रूट महिला आरक्षी जिसमें गोरखपुर में 29, अयोध्या 32, गोंडा 26 का प्रशिक्षण 3 नवंबर 2020 से प्रारंभ हुआ था। महिला रिक्रूट आरक्षियों का प्रशिक्षण सकुशल संपन्न कराने के लिए पांच टोलियां बनाई गई थी। इन सभी ने कुशलतापूर्वक 87 रिक्रूट महिला आरक्षी को प्रशिक्षण देते हुए निपुण किया।

प्रियांशी देवी को सर्वश्रेष्ठ महिला आरक्षी पदक

दीक्षांत समारोह की परेड कमांडर प्रथम प्रियांशी देवी, परेड कमांडर निष्ठा सुमन, परेड कमांडर कंचन बाला ने मुख्य अतिथि को सलामी दी। वहीं बाह्य परीक्षा में उत्कृष्ट अंक प्राप्त करने वाली महिला आरक्षी प्रियांशी देवी को सर्वोत्तम महिला आरक्षी पदक से वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने पुरस्कृत किया। इस समारोह में पुलिस अधीक्षक नगर सोनम कुमार, पुलिस अधीक्षक ट्रैफिक/लाइन रामसेवक गौतम सहित कई बड़े अधिकारी मौजूद रहे।

26वीं वाहिनी पीएसी का दीक्षांत समारोह, पीएसी को मिले 169 नए जवान

उत्तर प्रदेश पुलिस प्रशिक्षण निदेशालय के निर्देश पर 26वीं वाहिनी पीएसी गोरखपुर के प्रांगण में आरटीसी दीक्षांत समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें गोरखपुर जिले से 169 रिक्रूट आरक्षी शामिल हुए। जो 169 रिक्रूट आरक्षी नागरिक पुलिस आधारभूत प्रशिक्षण हेतु आगमन किये थे, उनका 6 महीने तक का आधारभूत प्रशिक्षण सकुशल सम्पन्न कराया गया। यह सभी प्रशिक्षु उत्तीर्ण हुए हैं।

इस प्रशिक्षण के लिए प्रशिक्षण निदेशालय और वाहिनी द्वारा आईटीआई, पीटीआई और अध्यापकों को नियुक्त किया गया था। इनके अतिरिक्त प्रशिक्षण में गुणवत्ता लाने हेतु समय-समय पर बाहर से भी विधि विज्ञान प्रयोगशाला, फायर सर्विस, रेडियो शाखा और कंप्यूटर प्रवक्ताओं द्वारा प्रशिक्षण प्रदान कराया गया है। साथ ही समस्त प्रशिक्षुओं को बैरक, बेड, भोजनालय, शौचालय, आरओ पानी, जनरेटर व्यवस्था आदि मूलभूत सुविधाओं की समुचित व्यवस्था उपलब्ध करायी गई।
निर्धारित पाठक्रम के अनुसार प्रशिक्षण प्रदान कराने के उपरान्त बाह्य और आन्तरिक विषयों की परीक्षा करायी गयी। जिसमें सभी 169 प्रशिक्षु उत्तीर्ण हुए।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में पुलिस अधीक्षक पीटीएस किरन यादव, सेनानायक कुन्तल किशोर व उपसेनानायक राजेश कुमार यादव सहित अन्य लोग उपस्थित रहें। पासिंग आउट परेड में सर्वाग सर्वोत्तम का पुरस्कार विपुल गुर्जर को दिया गया।