अब राप्ती तट पर शवदाह के लिए 4 सौ नहीं बल्कि देने होंगे इतने रुपए

गोरखपुर: राप्ती नदी के तट पर स्थित राजघाट में शवदाह के लिए जल्‍द ही दो हजार रुपये शुल्‍क देने होंगे। इसमें लकड़ी, कर्मकांड के पंडित का शुल्‍क एवं अंतमि संस्‍कार से जुड़ी अन्‍य सामग्री के मद का रकम शामिल हैं। अभी तो चार सौ रुपये ही लिए जा रहे हैं। नगर निगम प्रति शव चार सौ रुपये जमा कराने के बाद ही शवदाह की इजाजत दे रहा है। रुपये जमा करने की रसीद भी दी जा रही है। यह रकम साफ-सफाई के नाम पर लिए जा रहे हैं।

राप्ती नदी में बाढ़ आ जाने के कारण घाट पर दाह-संस्कार नहीं हो पा रहा है। राप्ती नदी के तट पर बन रहे अत्याधुनिक शवदाह गृह स्थल पर वैकल्पिक व्यवस्था के तहत अंतिम संस्कार की इजाजत दी गई थी। शुरू में तो शवदाह के लिए तो किसी तरह की कोई रकम नहीं लिए जा रहे थे, लेकिन अब चार सौ रुपये लिए जा रहे हैं। नगर निगम के मुख्य अभियंता सुरेश चंद ने बताया कि फर्म साफ-सफाई के लिए रुपये जमा करा रही है। भविष्य में दो हजार रुपये में अंतिम संस्कार की योजना है। इसमें लकड़ी, ब्राह्मण का शुुल्‍क और अंतिम संस्कार से जुड़ी सभी व्यवस्था शामिल होगी।