ऑक्सीजन से संबंधित सभी उपकरणों के आयात पर अब नहीं लगेगा किसी तरह का शुल्क

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री मोदी ने देश में ऑक्सीजन की उपलब्धता को बढ़ाने के लिए उठाए जा रहे कदमों की समीक्षा करने के लिए एक बैठक की. इस दौरान उन्होंने कहा कि चिकित्सा के उपयोग में आने वाली ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने के साथ-साथ घरों और अस्पतालों में मरीजों की देखभाल के लिए उपयोग में आने वाले उपकरणों की भी आवश्यकता है.

पीएम मोदी ने सभी मंत्रालयों और डिपो को ऑक्सीजन और चिकित्सा आपूर्ति की उपलब्धता के लिए तालमेल से काम करने पर जोर दिया. तत्काल प्रभाव से तीन महीने के लिए ऑक्सीजन और ऑक्सीजन से संबंधित उपकरणों के आयात पर बेसिक सीमा शुल्क और स्वास्थ्य उपकर से पूर्ण छूट देने का निर्णय लिया गया.

 

उन्होंने राजस्व विभाग को कोरोना के इलाज से जुड़े उपकरणों के निर्बाध और त्वरित कस्टम क्लीयरेंस को सुनिश्चित करने का निर्देश दिया. साथ ही कोविड टीकों के आयात पर बेसिक सीमा शुल्क को भी तीन महीने के लिए तत्काल प्रभाव से हटाने को कहा.

उल्लेखनीय है कि कोविड-19 के बढ़ते मामलों से लोगों के स्वास्थय पर पड़ रहे असर के मद्देनजर कई राज्यों के अस्पतालों में ऑक्सीजन की मांग तेजी से बढ़ी है. पिछले कुछ दिनों से राज्य इसकी आपूर्ति बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार पर लगातार दबाव बना रहे हैं.