गोरखपुर चिड़ियाघर: नए मेहमान के आगमन की तैयारी, अगले हफ्ते कानपुर से आएगा ‘अमर’

गोरखपुर: शहीद अशफाक उल्लाह खान प्राणि उद्यान में बाघ का बाड़ा भी अगले हफ्ते गुलजार हो जाएगा। कानपुर चिड़ियाघर से बाघ अमर को लाने गोरखपुर से टीम जल्द ही रवाना हो जाएगी। अभी बाघिन मैलानी को गोरखपुर प्राणि उद्यान में लाया गया है।

बाघों का जोड़ा पूरा हो जाने पर गोरखपुर प्राणि उद्यान भी बाघों का प्रजनन केंद्र बन सकता है। इसे लेकर प्राणि उद्यान की तरफ से तैयारियां शुरू कर दी जाएंगी। पशु चिकित्साधिकारी डॉ. योगेश प्रताप सिंह ने बताया कि अभी चिड़ियाघर में मैलानी बाघिन अकेले ही है।

कानपुर से बाघ लाए जाने की तैयारी चल रही थी कि इसी बीच उद्घाटन की तारीख घोषित हो गई। इसके बाद सभी इसकी तैयारी में जुट गए। अब एक या दो दिन में टीम कानपुर जाकर नर बाघ अमर को ले आएगी। वहीं रविवार को चिड़ियाघर में सात हजार लोग घूमने आए।

बुधवार की सुबह प्राणि उद्यान की पार्किंग को लेकर चिड़ियाघर परिसर के बाहर रेंजर और स्थानीय पार्षद प्रतिनिधि के बीच विवाद मामले की जांच प्राणि उद्यान की तरफ से उप प्रभागीय वन अधिकारी संजय कुमार मल्ल कर रहे हैं। बताया कि मामले में दोनों पक्षों का बयान मंगलवार को दर्ज कराया जाएगा।

पशु चिकित्साधिकारी डॉ. योगेश प्रताप सिंह ने बताया कि वन्य जीवों को लोगों के मनोरंजन, वन्य जीवों के प्रति उनकी जानकारी बढ़ाने, जागरूक करने के लिए प्राणि उद्यान में लाया गया है। कुछ सैलानी जीवों को पत्थर, बोतल या अन्य चीजें फेंककर मार रह हैं। यह अवैधानिक है। ऐसा करते पकड़े जाने पर उन्हें दंडित किया जा सकता है।