क्या आप जानते हैं…शराब के नशे में अंग्रेजी क्यों बोलने लगते हैं लोग? बड़ी दिलचस्प है वजह

नई दिल्ली: अक्सर आपने देखा होगी कि जो शख्स शराब नही पीता, वो काफी सोच समझकर बात करता है और अगर उसे अंग्रेजी भाषा नहीं आती है तो वो उस भाषा में बात करने से कतराता है। वहीं इसके उलट अगर वो व्यक्ति शराब पी ले, तो उसके तुरंत बाद उसकी बोली में काफी अंतर देखने को मिलता है यानि इसको कहा जाए कि बिना शराब पीए हुए वही लोग अंग्रेजी बोलने में हिचकिचाते हैं लेकिन वही लोग जब नशे में होते हैं तो वो अंग्रेजी में बात करते हुए घबराते नहीं हैं।

यूनिवर्सिटी ऑफ लीवरपूल, ब्रिटेन के एक कॉलेज तथा नीदरलैंड्स के यूनिवर्सिटी ऑफ मास्ट्रिच के शोधकर्ताओं ने इस पर रिसर्च किया है उसमे ये सामने आया है कि इंसान शराब के नशे में अन्य भाषाओं को सीखने में काफी मददगार होता है।

यह भी पढ़े…..

मनुरोजन यादव: छात्र राजनीति से लेकर पूर्वांचल की राजनीति में बनाई अपनी एक अलग पहचान

शोधकर्ताओं ने करीब 50 जर्मन लोगों के एक समूह को अध्ययन में शामिल किया जिन्होंने हाल ही में डच भाषा सीखी थी, इस ग्रुप में शामिल कुछ लोगों को शराब दी गई जबकि कुछ लोगों को ऐसी ड्रिंक्स दी गई जिसमें एल्कोहल नहीं था उसके बाद उन लोगों को आपस में डच भाषा में बात करने के लिए कहा गया।

इसमें यह बात सामने आया कि जिन लोगों की ड्रिंक में एल्कोहल था उन्होंने शब्दों का सही उच्चारण किया उन लोगों में भाषा के प्रयोग के दौरान बिल्कुल भी हिचकिचाहट नहीं थी।

शराब पीने के बाद वही लोग बिना किसी डर के फर्राटेदार अंग्रेजी बोलने लगते हैं क्योंकि शराब पीने के बाद उनका डर भाग जाता है और वो खुलकर बात कर पाते हैं यह सरल सा कारण है कि आप पीते ही अंग्रेजी में बात करने लगते हैं।