वैक्सिनेशन कार्यक्रम पर सरकार का ज़ोर, डोज संबंधी नई गाइडलाइंस भी जारी

नई दिल्ली: कोरोना के खिलाफ मुकाबले में भारत ने बड़ी सफलता प्राप्त की है। देश में कोरोना वायरस को हराने के लिए लगाई जा रही वैक्सीन के तहत अबतक 5 करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है।

सरकार का ज़ोर वैक्सीन डोसेज और जागरूकता अभियान के साथ साथ कोविन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने पर भी है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार 24 मार्च सुबह 7 बजे तक देशभर में 5.08 करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लग चुकी है। देश में कोरोना के खिलाफ वैक्सिनेशन के कार्यक्रम की शुरुआत 16 जनवरी को हुई थी, और यह विश्व का सबसे बड़ा वैक्सिनेशन कार्यक्रम है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार मंगलवार को देशभर में 23.46 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन दी गई है। सोमवार को देशभर में 32 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन का टीका लगाया गया था। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार राजस्थान, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, गुजरात, पश्चिम बंगाल, कर्नाटक, मध्य प्रदेश और केरल में फिलहाल सबसे ज्यादा वैक्सीन दी जा रही है। राजस्थान में अबतक 47.52 लाख, महाराष्ट्र में 47.43 लाख, उत्तर प्रदेश में 46.53 लाख, गुजरात में 41.86 लाख, कर्नाटक में 28.46 लाख, मध्य प्रदेश में 26.66 लाख और केरल में 25.58 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी है। देशभर में अबतक जितनी वैक्सीन लगाई गई है, उसका लगभग 60 प्रतिशत हिस्सा इन्हीं 8 राज्यों में है।

 

केंद्र सरकार ने पहली अप्रैल से 45 वर्ष आयु पार कर चुके सभी लोगों को वैक्सीन लगाने की अनुमति दे दी है। अभी तक 60 वर्ष से ऊपर की आयु वाले लोगों को वैक्सीन लगाने की अनुमति थी या फिर 45 वर्ष से ऊपर की आयु वाले ऐसे लोग ही वैक्सीन लगवा सकते हैं जो को-मॉर्बिड हैं, लेकिन पहली अप्रैल से 45 वर्ष से ऊपर की आयु वाले सभी लोगों को वैक्सीन की अनुमति है। मंगलवार को हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में इसकी मंजूरी दे दी गई है।

 

पिछले कुछ दिनों से देश में कोरोना वायरस के संक्रमण की रफ्तार तेजी से बढ़ी है, पिछले 24 घंटों के दौरान देशभर में कोरोना वायरस के 47262 नए मामले दर्ज किए गए हैं और इसमें अकेले महाराष्ट्र से ही 28699 नए मामले आए हैं। महाराष्ट्र के अलावा पंजाब में 2254, कर्नाटक में 2010, केरल में 1985, छत्तीसगढ़ में 1910 और गुजरात में 1730 नए मामले दर्ज किए गए हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान देशभर में जितने कोरोना मामले दर्ज किए गए हैं उसका लगभग 82 प्रतिशत इन्हीं 6 राज्यों का हिस्सा है। लोगों को विशेष हिदायते और डोज संबंधी नई गाइडलाइंस ज़ारी भी जारी कर दी गई है।