STF का दरोगा बन बदमाशों ने किराना व्यापारी से लूटे 80 हजार रुपए, कोतवाली के पास हुई घटना CCTV में कैद

गोरखपुर: एक बार फिर खाकी पर सवाल खड़े हो गए हैं। यहां बदमाशों ने खुद को एसटीएफ का दरोगा बताकर कोतवाली थाने के पास ही सिद्धार्थनगर के किराना व्यापारी को रविवार की दोपहर को 80 हजार रुपये लूट लिए। व्यापारी को जब तक इसकी जानकारी हुई और उसने शोर मचाया, लेकिन तब तक दोनों बाइक से फरार हो गए थे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी है। पास के दुकानों के सीसी टीवी फुटेज में बाइक सवार बदमाश कैद हो गए हैं। पुलिस की चार टीमें उनकी तलाश में लगी हुई है। हालांकि, कोतवाली इलाके में पहले भी इसी तरह से पुलिसवाले बनकर उचक्के व्यापारियों को शिकार बनाते रहे हैं।

 

रास्ते में रोककर करने लगे चेकिंग

सिद्धार्थनगर, तितरा के रहने वाले मनोज कुमार मद्धेशिया की सिद्धार्थनगर पंचायत के बगल में पूरन किराना स्टोर के नाम से दुकान है। रविवार को वह बाजार करने गोरखपुर के साहबजगंज मंडी के लिए निकला था। मनोज ने बताया कि वह सिद्धार्थनगर से प्राइवेट बस से चला और बरगदवा के पास बस से उतर गया। वहां से आटो से धर्मशाला तक आया उसके बाद रिक्शा से शास्त्रीचौक गया। वहां छोला बठूरा खाना के बाद रिक्शा से साहबगंज जा रहा था कि कोतवाली था और सीओ कोतवाली आफिस के बीच बाइक सवार दो लोगों ने उसे रोक लिया। दोनों ने खुद को एसटीएफ का बताया और कहा कि शहर में नशे का कारोबार बढ़ गया है। वह ड्रग्स की चेकिंग कर रहे हैं। उसे चेक करने से पहले उन्होंने दो और लोगों को चेक किया और उनके जाने के बाद उसका बैग चेक किया।

 

चेकिंग के बहाने उड़ा दिए रुपए

चेकिंग के दौरान उन्होंने काफी सफाई से बैग में रखा 80 हजार रुपये निकाल लिए और फिर सब कुछ ठीक होने की बात कहते हुए निकल गए। मनोज ने कुछ देर बाद बैग चेक किया तो पैसा गायब था जिसके बाद उसने शोर मचाया। शोर सुनकर पहुंची पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी। जानकारी के बाद एसपी सिटी सोमन कुमार और सीओ कोतवाली भी मौके पर पहुंच गए। पुलिसवालों ने आस-पास के दुकानों में लगे सीसी टीवी फुटेज चेक किया जिसमें बाइक सवार लुटेरे कैद हो गए थे। उनकी फुटेज के आधार पर पुलिस की टीमें तलाश में जुट गई। एसपी सिटी ने बताया कि बदमाशों की तलाश में चार टीमें लगाई गई हैं। कोतवाली इलाके में पूर्व में हुई इस तरह की घटनाओं को भी इसी के साथ जांच के दायरे में रखा गया है। आरोपितों को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा।