गोरखपुर में हुई पुलिस और बदमाश में मुठभेड़, फिर ऐसे दबोचा गया हिस्ट्रीशीटर

गोरखपुर: जिले के रामगढ़ताल पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान सोमवार की सुबह लहसड़ी फोरलेन अंडरपास के पास से हिस्ट्रशीटर व थाने के टॉप टेन बदमाशों की सूची में शामिल सागर गौड़ को गिरफ्तार कर लिया। वहीं अंधेरे का फायदा उठाकर एक बदमाश फायरिंग करते हुए फरार हो गया।

फरार बदमाश की तलाश में पुलिस टीम लगी है। वहीं गिरफ्तार आरोपी के पास से तमंचा, कारतूस, खोखा, चांदी के सिक्के, नकदी बरामद हुए हैं। चोरी की दो घटना में शामिल होना बदमाश ने स्वीकार किया है। आरोपी को पुलिस ने कोर्ट में पेश कर जेल भिजवा दिया है। पकड़े गए आरोपी की पहचान बड़गो निवासी सागर गौड़, वहीं फरार की पहचान महेवा निवासी झीनक के रूप में हुई है।

 

यह भी पढ़े…..

मनुरोजन यादव: छात्र राजनीति से लेकर पूर्वांचल की राजनीति में बनाई अपनी एक अलग पहचान

इंस्पेक्टर जगत नारायण सिंह ने बताया कि उप निरीक्षक प्रवेश कुमार सिंह, चौकी प्रभारी आजाद नगर विनोद कुमार सिंह के साथ गश्त से वापस आ रह थे कि मुखबिर से सूचना मिली कि सागर गौड़ लहसड़ी फोरलेन अंडर पास के पास किसी संगीन अपराध करने के फिराक में खड़ा है।

इस सूचना पर उप निरीक्षक प्रवेश कुमार सिंह पूरी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस को देखकर सागर गौड़ ने ताबड़तोड़ पुलिस टीम पर जान से मारने की नीयत से फायरिंग शुरू कर दी, इसके जबाव में एसआई विनोद कुमार सिंह व अजय कुमार राय द्वारा आत्मरक्षार्थ अपने अपने सर्विस पिस्टल से एक एक राउंड फायर किया।

इसके बाद बदमाश भागने लगे, पुलिस टीम ने बदमाश को घेरकर गिरफ्तार कर लिया गया। मौके से अंधेरे का फायदा उठाकर सागर गौड़ का साथी झीनक फरार हो गया। आरोपी सागर गौड़ उपरोक्त के पास से एक चोरी की बाइक, तीन चांदी के सिक्के, 5600 रूपये नकद, एक कट्टा 315 बोर, एक कारतूस 315 बोर व दो खोका कारतूस बरामद किया गया है।