बड़ा खुलासा, दलाई लामा की जासूसी कर रहा पेंगथा चार्ली

नई दिल्ली: भारत में चीन की जासूसी पर आयकर विभाग का बड़ा खुलासा। हवासा और जासूसी मामले में गिरफ्तार लुओ सांग से पूछताथ की गई तो आयकर विभाग को बड़ी जानकारी मिली। धर्म गुरु दलाई लामा की जासूसी करने के लिए भारी मात्रा में रिश्वत बांटी गई है। गिरफ्तार चीनी नागरिक लुओ सांग भारत में ‘चार्ली पेंग’ के फर्जी नाम से रह रहा था। जासूसी के लिए पेंग ने दिल्ली के मजूनं का टीला के पास लामाओं को दो से तीन लाख रूपए बांटे हैं। जिसके लेन-देन की पूरी बातचीत चीन के एप वी-चैट के जरिये हुई। रिश्वत को पहुंचाने का काम चार्ली अपने कर्मचारियों के जरिेये कर रहे थे जो लामाओं तक पैसे पहुंचाने का काम करते थे।

दलाई लामा की कर रहा था जासूसी
चार्ली पेंग अपने जासूसी के सीक्रेट ऑपरेशन का ट्रांजिट कैंप दिल्ली के मजनूं का टीला में बनाया हुआ था। चीन की खुफिया एजेंसी मिनिस्ट्री ऑफ स्टेट सिक्योरिटी (एमएसएस) इस काम के लिए सांग को हवाला से पैसे भेज रही थी।

IT ने जब्त  किए 60-70 लाख रुपये कैश 
आयकर विभाग ने 1,000 करोड़ रुपए के मनी लॉन्ड्रिंग मामले की जांच के तहत चीन के कुछ नागरिकों और उनके स्थानीय सहयोगियों के खिलाफ छापेमारी करते हुए दिल्ली-एनसीआर स्थित विभिन्न परिसरों से कई दस्तावेज, कंप्यूटर संबंधी सहायक उपकरण और लगभग 60-70 लाख रुपये की नकदी जब्त की है। कार्रवाई की जद में कुछ चीनी लोग, उनके कुछ भारतीय सहयोगी और बैंक अधिकारी शामिल हैं।