जीएसटी में रजिस्टर्ड सभी व्यापारियों को मिलेगा 10 लाख रुपए का दुर्घटना बीमा, राष्ट्रपति के अभिभाषण में उल्लेख

नई दिल्ली. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुरुवार को संसद के सयुंक्त सत्र को संबोधित करते हुए जीएसटी में रजिस्टर्ड व्यापारियों को 10 लाख रुपए तक दुर्घटना बीमा देने का ऐलान किया। राष्ट्रपति ने अपनी सरकार की उपलब्धियों को बताते हुए आगामी नीतियों के बारे में जानकारी दी।उन्होंने व्यापारियों के लिए राष्ट्रीय व्यापारी कल्याण बोर्ड के गठन का ऐलान किया।

देश की अर्थव्यवस्था का आकार 5 ट्रिलियन डॉलर का होगा

राष्ट्रपति ने कहा कि अब भारत, GDP की दृष्टि से दुनिया की 5वीं बड़ी अर्थ-व्यवस्था बनने की ओर अग्रसर है। विकास दर को उच्च स्तर पर बनाए रखने के लिए Reforms की प्रक्रिया जारी रखी जाएगी। हमारा लक्ष्य है कि वर्ष 2024 तक, भारत 5 ट्रिलियन डॉलर की इकॉनॉमी बने।

खुदरा व्यापार नीति भी बनेगी

छोटे व्यापारियों के हितों को ध्यान में रखते हुए सरकार ने उनके लिए नई पेंशन योजना शुरू की है। अब जल्द ही ‘राष्ट्रीय व्यापारी कल्याण बोर्ड’ का गठन किया जाएगा और खुदरा कारोबार में बढ़ोतरी के लिए ‘राष्ट्रीय खुदरा व्यापार नीति’ भी बनाई जाएगी। GST के तहत रजिस्टर्ड, सभी व्यापारियों को, 10 लाख रुपए तक का दुर्घटना बीमा भी उपलब्ध कराया जाएगा। MSME सेक्टर से जुड़े उद्यमियों को ऋण लेने में दिक्कत न हो, इसके लिए क्रेडिट गारंटी कवरेज का दायरा एक लाख करोड़ रुपए तक बढ़ाने पर काम किया जा रहा है।

भारत बनेगा ग्लोबल मैन्यूफैक्चरिंग हब

अभिभाषण में कहा गया है कि भारत को ग्लोबल मैन्यूफैक्चरिंग हब बनाने के लिए तेज़ी से काम हो रहा है। इंडस्ट्री 4.0 को ध्यान में रखते हुए, जल्द ही नई औद्योगिक नीति की घोषणा की जाएगी। ‘Ease of Doing Business’ के तहत राज्यों के साथ मिलकर, नियमों को सरल बनाने की प्रक्रिया को और तेज किया जाएगा। इसी कड़ी में कंपनी कानून में भी आवश्यक बदलाव लाए जा रहे हैं।